ए आर रहमान को मिला लता मंगेशकर का साथ-

कुछ दिनो पहले ही ए आर रहमान को दर्शको के गुस्से का सामना करना पडा था। जब उन्होने लदंन के एक कसंर्ट में हिंदी की जगह तमिल में गाने गाए थे। किसी ने इस मामले में एआर रहमान की आलोचना की तो किसी ने एआर रहमान का साथ दिया । इस मामले के बारे में जब लता मंगेशकर को पता चला तो वह काफी निराश हो गई
लता मंगेशकर भी खुद भी लंदन के विंबले स्टेडियम में कसंर्ट कर चुकी है। उन्होने कहा है क्या अब दर्शको के धैर्य में कमी हो गई है। मेरे 70 साल के अनुभव में मैने हर भाषा में स्टेज पर गाया है। चाहे वो पंजाबी बंगाली सा डोगरी हो। तब तो दर्शक सब सुनना पंसद करते थे।
उसके साथ ही कहा कि एआर रहमान ने गाने तमिल में गाकर के फिर हिन्दी में अनुवाद किया और दोनो ही पॉपुलर हो गए। लता मंगेशकर ने खुद कहा है कि मै खुद हर भाषा में गाना गाना पंसद करती हूं बस डर इतना ही होता है कि उच्चारण सही हो।