करीब 20 हजार लोगों के आधार नंबर सरकारी वेबसाइट पर हुए लीक-

पंजाब सरकार की एक वेबसाइट पर 20 हजार से भी अधिक लोगों के आधार नंबर सार्वजनिक हो गए है। यह नंबर उन लोगों के हैं जिन्होनें लुधियाना और जगरांव में लो कॉस्ट हाउसिंग के लिए आवेदन किया हुआ है। 12 अकों के आधार नंबर को सरकारी की अधिकतर सेवाओ के लिए अनिवार्य कर दिया गया है। आपको बता दे कि आधार नंबर के साथ व्यक्ति की बायोमीट्रिक जानकारी जुडी होती है। जिसकी वजह से नुकसान हो सकता है।
विशेषज्ञो के अनुसार यह चितां जताई जा रही है। कि सरकार के साइबर सिक्योरिटी स्टैंडर्ड काफी कमजोर होने की वजह से निजी जानकारी खतरे में है। वहीं दुसरी ओर सुप्रीम कोर्ट में अभी इस बात को लेकर केस चल रहा है कि आधार सिस्टम से लोगों की निजता का हनन तो नहीं हो रहा हैं
जीएलएडीए की वेबसाइट पर करीब 20100 लोगो का आधार नबंर आधार कार्ड धारक का नाम और उसके पिता का नाम सार्वजनिक हो गया। यह जानकारी लीक हो रही है। इसकी सरकार द्वारा भी पुष्टि की जा रही है। तथा इसके लिए प्रधानंमत्री आवास योजना के तहत चलाई जा रही हैं